Bikaner Rajasthan Slider

विश्व उच्चरक्तचाप दिवस कल

पीबीएम अस्पताल के ओपीडी में होगी उच्च रक्तचाप की जांच

बीकानेर। औषध विभाग, एस.पी. मेडिकल कॉलेज तथा इण्डियन रेडक्रॉस सोसायटी द्वारा शुक्रवार को पीबीएम अस्पताल के मेडिसिन विभाग के न्यू ओपीडी ब्लॉक में विश्व उच्चरक्तचाप दिवस मनाया जायेगा। मेडिसिन विभागाध्यक्ष डॉ.एल.ए.गौरी तथा विरिष्ठ आर्चाय डॉ. बी. के. गुप्ता ने संवादाताओं को बताया कि आमजन में उच्च रक्तचाप के प्रति जागरूकता बढ़ाने के लिए इस चिकित्सालय के समस्त संकाय सदस्य ;थ्ंबनसजल डमउइमतेद्धए अधिकारी, रेजिडेंटस, मेडिकल एवं नर्सिंग विद्यार्थी, कर्मचारी तथा समस्त भर्ती मरीज व उनके रिश्तेदारों तथा प्रत्येक ऑपीडी में आने वाले मरीजों एवं उनके रिश्तेदारों के ब्लड प्रेशर ;ठच्द्ध आदि की जॉच की जायेगी।

इसके लिए विभिन्न ऑपीडी, मेडिकल कॉलेज, नर्सिंग कॉलेज एवं नर्सिंग स्कूल में एक टीम भेजी जायेगी, जो कि ब्लड प्रेशर ;ठच्द्ध आदि की जॉच करेगी। डॉॅ लियाकत अली गौरी ने बताया कि मेडिसिन विभाग जैसे दमा, शुगर, उच्चरक्तचाप, गठीया आदि सामान्य रोगों के बारे में हर आम नागरिकों को जानकारी देगा कि इनके क्या-क्या लक्षण है और इनके क्या उपचार है और बचाव हैं, कि जानकारी दी जायेगी। उन्होंने बताया कि उच्चरक्तचाप का मतलब होता है रक्तचाप का बढऩा। इसके बारे में प्रत्येक व्यक्ति को पता होना चाहिए। रेडक्रोस सोसायटी तथा अस्पताल प्रशासन शुक्रवार अपनी सेवाएं देकर लोगों को इस रोग के प्रति जागरूक करेगा। साथ ही इस रोग के क्या लक्षण है और इसकी जटिलता से बचने के क्या उपाय हैं,इसकी जानकारी भी दी जायेगी।

उन्होंने बताया कि ब्लड प्रेसर एक कॉमन रोग है,उच्चरक्तचाप के मरीज को लगातार बी.पी चैक करवाते रहना चाहिए। अगर बी.पी के इलाज में लापरवाही बरती जाती है तो इससे गुर्दे की खराबी, ह्नदयघात, लकवे की बीमारी हो सकती है। डॉ लियाकत अली गौरी ने बताया की ध्रुमपान, मोटापा व तनाव से दूर रहे व अच्छी नीन्द ले, विशेषकर अच्छे खानपान जैसे फ्रुट, सलाद का सेवन अत्यधिक करें तथा नियमित रूप से व्यायाम करें। उन्होंने बताया कि पीबीएम अस्पताल में गुरूवार को ही राष्ट्रीय डेंगू दिवस पर मेडिसिन विभाग की ओर से एक सेमिनार का आयोजन किया गया। जिसमें मेडिसिन विभाग के चिकित्सकों ने डेंगू की रोकथाम एवं उपचार के बारे में विस्तृृृत जानकारी दी गई।

semuno2
इस अवसर पर इण्डियन रेडक्रॉस सोसायटी के सचिव विजय खत्री ने बताया कि विश्व स्वास्थ्य संगठन द्वारा विभिन्न रोगों के प्रति सावचेत करने के लिए रोग विशेष के लिए दिवस घोषित किए है। इसी क्रम में विश्व उच्चरक्तचाप दिवस मनाया जा रहा है। इण्डियन रेडक्रॉस सोसायटी अस्पताल प्रशासन को इसके लिए बीपी उपकरण उपलब्ध करायेगा और अपनी सेवाएं भी देगा। उन्होंने बताया कि आगामी दिनों में सोसायटी द्वारा इस रोग के प्रति आमजन को जागरूक करने का कार्य करेगा। प्रथम चरण में बीकानेर शहर की कॉलेज,विश्वविद्यालय,रेलवे स्टेशन,वृद्धजन भ्रमण पथ आदि स्थानों पर कैम्प आयोजित कर,लोगों के रक्तचाप की जांच की जायेगी। इण्डियन रेडक्रॉस सोसायटी के सचिव राजेन्द्र जोशी ने कहा कि विशेष दिवसों पर आमजन के रोगों की जांच के माध्यम से उन्हें सर्तक किया जाता है। इस अवसर पर डॉ.पी.के.समेजा भी उपस्थित थे।
जिला चिकित्सालय में भी विश्व उच्च रक्तचाप दिवस मनाया जायेगा। पीएमओ डॉ.बी.एल.हटीला ने बताया कि इस चिकित्सालय में सुबह 8 बजे से 2 बजे तक शिविर आयोजित कर,आमजन के रक्तचाप की जांच की जायेगी। शिविर में विशेषज्ञ चिकित्सक अपनी सेवाएं देंगे।