सर्व समाज के युवाओं के लिए कैरियर मोबाइल वैन का शुभारंभ

युवा शक्ति पुंज है हमें अपनी शक्ति को पहचान कर राष्ट्र निर्माण के कार्य मे लगाने की आवश्यकता है : श्रीमाली

बीकानेर । युवा दिवस पर बीकानेर युवाओ को मोबाईल वैन के माध्यम से ऑनलाइन कैरियर मार्गदर्शन की सुविधा होगी दि फ्यूचर सोसायटी व विप्र फाउंडेशन के तत्वधान में भारतीय जीवन बीमा निगम के सहयोग से डागा चौक स्थित कृष्णा सदन में एसकेआरयू के कुलपति प्रोफेसर बी आर छिंपा एलआईसी के सुधांशु मोहन आलोक संत दाता श्री रामेश्वरानंद महाराज वरिष्ठ टी.वी.पत्रकार डॉ. मीना शर्मा मोटिवेशनल स्पीकर डॉ. चक्रवती नारायण श्रीमाली तथा विप्र फाउंडेशन प्रदेश अध्यक्ष ताराचंद सारस्वत के आतिथ्य में इस वैन का शुभारम्भ किया ।
कार्यक्रम संयोजक डॉ. चन्द्रशेखर श्रीमाली ने जानकारी देते हुए बताया कि सर्व समाज के विधार्थियो के लिए नि:शुल्क ऑन लाईन कैरियर मार्गदर्शन के लिए मोबाईल वैन का शुभारंभ किया गया है । समारोह में शिक्षा समाज व कर्मचारी जगत से जुड़े लोगों के साथ बीकानेर के विभिन्न स्कूल व कॉलेज के विधार्थियो ने भागीदारी की इस अवसर पर दिल्ली से आए वरिष्ठ काउंसर सेकेट्री फ़्यूटर सोसायटी महेश शर्मा ने कैरियर मार्गदर्शन के विभिन्न आयोजनों के बारे में विस्तार से जानकारी दी ।
समारोह को सम्बोधित करते हुए मुख्य अतिथि प्रो.बी.आर छिंपा ने कहा कि भारत विश्वगुरु अपने ज्ञान एवं विवेक से बना आज पूरा विश्व भारत की और आशा भरी निगाहे से देख रहा है हम लोगो को यह जिम्मेदारी उठानी होगी ।
मुख्य वक्ता डॉ.चक्रवर्ती नारायण श्रीमाली ने समारोह को सम्बोधित करते हुए कहा कि युवा शक्ति पुंज है हमें अपनी शक्ति को पहचान कर राष्ट्र निर्माण के कार्य मे लगाने की आवश्यकता है उन्होंने स्वामी विवेकानंद के आदर्शों एवं जीवन से प्रेरणा से लेने का आह्वान किया । कार्यक्रम के विशिष्ट अतिथि एलआईसी के वरिष्ठ मण्डल प्रबन्धक सुंधाशु मोहन मिश्र ने आज के समय मे स्वरोजगार एवं नये विकल्पों को आमजन का विशेष अनुरोध उपस्थित युवाओ से किया ।
कार्यक्रम में संत दाता श्री रामेश्वरानंद जी ने आशीर्वादवचन देते हुए कहा कि वेद एवं नवीन ज्ञान का संगम आज के युग में बहुत महत्वपूर्ण है हमे दोनों के सामंजस्य से जीवन मे परिवर्तन लाना है । समारोह में सारथी प्रोजेक्ट डायरेक्टर डॉ. मीना शर्मा ने स्त्री शिक्षा मीडिया एवं नवीन तकनिको से कैरियर तकनीकी से कैरियर निर्माण पर प्रकाश डाला ।
समारोह में विप्र फाउंडेशन जिलाध्यक्ष भंवर पुरोहित ने स्वागत भाषण देते हुए कार्यक्रम की रूपरेखा प्रस्तुत की तथा विप्र फाउंडेशन के प्रदेशाध्यक्ष ताराचंद सारस्वत ने धन्यवाद ज्ञापित किया ।


कार्यक्रम को सफल बनाने में विफा देहात अध्यक्ष रामेश्वर जाजड़ा युवा मंच प्रदेश महामंत्री दिनेश ओझा उपाध्यक्ष मुकेश सारस्वत नंदकिशोर गालरिया युवा मंच अध्यक्ष रविन्द्र जाजड़ा रेवंत सांखी सुरेंद्र चूरा राजू पारीक क्रोन्या हेमन्त सेवग जिंतेंद्र गौतम अरुण कल्ला राजू पारीक मनोज पारीक शिवजी गुरावा भगवानदेव सारस्वत तनुज सारस्वत हेमन्त सेवग शिवदत्त ओझा पुष्करणा शिवलाल तेजी सुरेंद्रसिंह शेखावत अशोक भाटी किशन चौधरी जगदीश सोलंकी सुनील जावा मोतीलाल हर्ष अमरदीप जेपी व्यास राजा सेवग भवानी पारीक सुनीता गोड आशा पारीक दिनेश चौहान राजेन्द्र सोनी विजय कुमार मेघवाल अशोक बोबरवाल आदि उपस्थित थे ।
स्वामी विवेकानन्द ने भारतीय मूल्यों व संस्कृति को दुनिया के सामने रखा : गुप्ता

युवा शक्ति पुंज है हमें अपनी शक्ति को पहचान कर राष्ट्र निर्माण के कार्य मे लगाने की आवश्यकता है : श्रीमाली
स्वामी विवेकानन्द की 155 वीं जयंती पर शुक्रवार को राजकीय महारानी उच्च माध्यमिक विद्यालय में युवा दिवस समारोह आयोजित किया गया।
कार्यक्रम के मुख्य अतिथि जिला कलक्टर अनिल गुप्ता ने कहा कि स्वामी विवेकानन्द ने भारतीय मूल्यों व संस्कृति को दुनिया के सामने रखा। उन्होंने अपने ज्ञान के माध्यम से देश को विश्व में सर्वोच्च स्थान दिलाया। उन्होंने कहा कि भारत युवाओं का देश है तथा राष्ट्र निर्माण में युवाओं की भूमिका अत्यन्त महत्त्वपूर्ण है। आज विज्ञान, अंतरिक्ष, खेल, शिक्षा सहित प्रत्येक क्षेत्र में भारतीय युवाओं ने अपना परचम लहराया है। उन्होंने युवा पीढ़ी से स्वामी विवेकानंद के आदर्श वाक्य- जागो, उठो और तब तक चलो जब तक लक्ष्य ना मिले, को आत्मसात करने का आह्वान किया।
महापौर नारायण चौपड़ा ने कहा कि स्वामी विवेकानन्द के सिद्धान्त आज के दौर में अधिक प्रासंगिक हैं। हम अपने शहर तथा देश को साफ-सुथरा और स्वच्छ रख कर भी देश की सेवा कर सकते हैं। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी ने देश को गंदगी से मुक्त करने का सपना देखा है और इसके लिए पूरे देश में स्वच्छ भारत मिशन लागू किया है।
रामकृष्ण परमहंस कुटीर के सचिव महादेव प्रसाद आचार्य ने कहा कि रामकृष्ण परमहंस ने बालक नरेन्द्र की अलौकिक प्रतिभा को समझा और उन्हें विवेकानन्द के रूप में पहचान दिलाई। विवेकानन्द ने दुनियाभर में भारतीय संस्कृति की अलख जगाने व भारतीयों को जागरूक करने का कार्य किया। राजकीय महारानी सुदर्शना कन्या महाविद्यालय के प्राचार्य डॉ. उमाकान्त गुप्त ने कहा कि स्वामी विवेकानन्द ने भारतीय महिलाओं की प्रतिष्ठा को स्थापित किया। वे महान् व्यक्तित्व के धनी थे।
इससे पहले अतिथियों ने मां सरस्वती और स्वामी विवेकानन्द के चित्र के समक्ष दीप प्रज्वलित कर कार्यक्रम की विधिवत शुरूआत की। कार्यक्रम में उप क्षेत्रीय रोजगार कार्यालय के सहायक निदेशक हरगोविन्द मित्तल, उप निदेशक माध्यमिक शिक्षा निदेशालय देवलता, सूचना एवं जनसम्पर्क अधिकारी हरिशंकर आचार्य, अतिरिक्त जिला शिक्षा अधिकारी सुनील बोड़ा, सीओ गाइड मीनाक्षी भाटी तथा महारानी स्कूल की प्राचार्या मीना शर्मा बतौर अतिथि मौजूद थी। सीओ स्काउट जसवंत राजपुरोहित ने आभार जताया। कार्यक्रम का संचालन संजय पुरोहित ने किया।
24 युवाओं को मिले ‘ऑफर लेटर’
कार्यक्रम के दौरान आरएसएलडीसी के टे्रनिंग पार्टनर एचएल एफपीपीटी द्वारा आयोजित प्रशिक्षण के तहत 24 प्रशिक्षणार्थियों को ऑफर लेटर प्रदान किए गए। इस अवसर पर उप क्षेत्रीय रोजगार कार्यालय द्वारा कॅरियर प्रदर्शनी आयोजित की गई। इसके माध्यम से युवाओं को विभिन्न क्षेत्रों में कॅरियर की संभावनाओं के बारे में जानकारी दी गई।
विभागीय स्टॉलों से दी जानकारी
कार्यक्रम स्थल पर चिकित्सा एवं स्वास्थ्य, आयुर्वेद, उपक्षेत्रीय रोजगार कार्यालय, महिला अधिकारिता तथा सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता विभाग द्वारा विभागीय स्टॉल लगाए गए व इनके माध्यम से राज्य सरकार की कल्याणकारी योजनाओं, महिला सशक्तीकरण, छात्रवृत्तियों से सम्बन्धित जानकारी दी गई। कार्यक्रम में सूचना एवं जनसम्पर्क विभाग द्वारा राज्य सरकार की कल्याणकारी योजनाओं से सम्बंधित साहित्य वितरित किया गया।
स्वच्छता एप की दी जानकारी
इस दौरान स्वच्छ भारत मिशन के राज्य संदर्भ व्यक्ति आनन्द पारीक ने स्वच्छता एप की जानकारी दी। उन्होंने स्वच्छता सर्वेक्षण तथा रेंकिंग में स्वच्छता एप के महत्त्व के बारे में बताया।
विद्यार्थियों को दिलाई शपथ-कार्यक्रम में विद्यार्थियों को स्वामी विवेकानंद के आदर्शों व सिद्वान्तों को अपनाने, नशा मुक्त प्रदेश बनाने, सड़क सुरक्षा नियमों की पालना करने, राज्य को स्वच्छ व स्वस्थ बनाने, नारी सम्मान, शिक्षा की अलख जगाने, वृक्षारोपण के माध्यम से पर्यावरण संरक्षण करने व मुख्यमंत्री जल स्वावलम्बन अभियान में अपना योगदान देने की शपथ दिलाई गई।न भी किया जा चुका है ।