Ayodhya Diwali
National New Delhi Slider

रामनगरी अयोध्या 5.5 लाख दीपों से जगमगाई

OmExpress News / New Delhi / Ayodhya / भगवान श्री राम की नगरी अयोध्या में आयोजित दीपोत्सव कार्यक्रम के तहत रात को सरयू के घाट पर 5 लाख 51 हजार दीपों का प्रज्ज्वलन किया गया। इस बार पूरी नगरी में संस्कृति और पर्यटन विभाग के संयुक्त तत्वावधान में 14 जगहों पर दीप जलाए जाने का इंतजाम किया गया। पहली बार 5,51000 दीप प्रज्जवलन कर गिनीज वर्ल्ड रिकॉर्ड का दावा किया गया। इस अवसर पर, मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ समेत कई मंत्री और राज्यपाल भी दीप प्रज्जवलन में हिस्सा लेने पहुंचे। यहां श्री राम के वनवास से लौटने की खुशी में प्रतीक के तौर पर प्रतिवर्ष जलाए जाते रहे हैं। Ayodhya Diwali

Shyam Jewellers Bikaner

देखें अयोध्या में हो रहे विभिन्न कार्यक्रमों की झलक

रामलीला के लिए 5 देशों के कलाकार आए दीपोत्सव के अवसर पर अयोध्यावासियों ने इस बार भी कुछ ऐसी ही तैयारियां की, जैसे त्रेता युग में लंका विजय के बाद प्रभु श्रीराम के अयोध्या आगमन पर भव्य उत्सव मना था। देश में सबसे बड़ा दीपोत्सव अयोध्या में ही मन रहा है। इस बार 500 से ज्यादा देशी-विदेशी कलाकार यहां पहुंचे हैं। भारत, नेपाल, श्रीलंका, इंडोनेशिया और फिलीपींस आदि 5 देशों के कलाकारों ने रामलीला की। इन स्थलों पर पारंपरिक उत्सव के मंच बने दीपक प्रज्जवलन के अवसर पर अयोध्या में 10 छोटे और एक बड़ा मंच बनाया गया। ये मंच भरतकुण्ड, आईटीआई, साकेत पीजी कालेज, बिड़ला धर्मशाला, झुनकी घाट, भजन स्थल, दशरथ महल, कनक भवन, तुलसी उद्यासन, हनुमान बाग आदि स्थलों पर बने हैं।

राम राज्याभिषेक देखने पहुंचे लोग सभी जगहों पर विभिन्न तरीकों से उत्सव मनाने की तैयारी की गई। देशभर के लोग यहां भजन, लोक गायन, नन्दराजजात, राम राज्याभिषेक देखने पहुंचे हैं। 11 रथों से सुसज्जित शोभा यात्रा अयोध्या में इस बार श्री राम के जीवन से जुड़े 11 प्रसंगों को दर्शाने वाली शोभायात्रा की भी तैयारी की गई। जिसमें करीब 500 कलाकार मुखौटे लगा कर शामिल हुए हैं। भारत, श्रीलंका, इण्डोनेशिया, फिलीपींस और नेपाली रामलीलाओं की झलक भी इस शोभा यात्रा में दिखाई। शनिवार शाम को रामकथा पार्क में श्रीराम-जानकी का पूजन वंदन, आरती एवं श्रीराम राज्याभिषेक के कार्यक्रम शुरू हुए।

13 बड़े मंदिरों में 3 दिन तक 5001 दीये जले

दीपोत्सव के प्रभारी आशीष मिश्र ने बताया कि रामनगरी में 24 अक्टूबर से दीप प्रज्जवलन कार्यक्रम चल रहा है। यहां 13 बड़े मंदिरों में तीन दिन (24 से 26 अक्टूबर) लगातार 5001 दीये जलाए जाएंगे। इसके साथ 22 सांस्कृतिक रथों को भी तैयार किया गया। Ayodhya Diwali

घाटों पर ग्राफिक्स के जरिए सजाए दीपक इस बार दीपों को सीधे न लगाकर ग्राफिक्स के जरिए घाटों पर दर्शाया गया है। इन्हीं ग्राफिक्स में श्रीराम, सीता और हनुमान समेत अयोध्या के दर्शनीय स्थलों की आकृतियां देखी जा सकती हैं। खासतौर पर श्रीराम की अयोध्या वापसी का दृश्य मन मोहेगा।

योगी आदित्यनाथ और आनंदीबेन ने दीए जलाए उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ और राज्यपाल आनंदीबेन पटेल अयोध्या में ‘दीपोत्सव’ समारोह में हिस्सा लेने पहुंचे। उनके साथ कई मंत्री एवं पदाधिकारी रहे। सभी ने सरयू घाट पर महाआरती में हिस्सा लिया। यहां मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने 226 करोड़ की योजनाओं का शिलान्यास और लोकार्पण भी कराया। राज्यपाल आनंदीबेन पटेल एवं कई मंत्रियों ने दीप जलाए। Ayodhya Diwali

सीएम बोले- यही रामराज्य कहलाता है

अयोध्या में योगी आदित्यनाथ ने कहा, ”प्रधानमंत्री मोदी ने देश की संस्कृति को पूरी दुनिया में फैलाने का काम किया। मैं भगवान राम की नगरी से आप सभी को दिवाली की शुभकामनाएं देता हूं। श्री राम की परंपरा पर हमें गौरव की अनुभूति होती है। अयोध्या की जब भी बात होती है, तो रामराज्य पहले हमारे दिमाग में आता है। जहां दुख के लिए कोई जगह न हो। यहां भव्य दीपोत्सव मन रहा है, ऐसा राज्य ही रामराज्य कहलाता है। मोदीजी ने ऐसा ही रामराज्य स्थापित करने का सपना देखा था। सभी को बराबर हक दिया गया है, बगैर किसी भेदभाव के कल्याणकारी योजनाएं चलाई जा रही हैं। Ayodhya Diwali

कार्यक्रमों की टाइमलाइन 4:15 बजे से 4:40 बजे तक राम कथा पार्क आगमन पर श्रीराम-जानकी का पूजन-वंदन, आरती और श्रीराम का प्रतीकात्मक राज्याभिषेक। शाम 6:00 बजे तक परियोजनाओं का शिलान्यास, लोकार्पण और अतिथियों का संबोधन। राम की पैड़ी पर दीप प्रज्जवलन शाम 6:30 से 7:00 बजे तक नया घाट पर सरयू की आरती और पूजन। शाम 7:00 बजे राम की पैड़ी चार लाख से ज्यादा दीपों से रोशन। रात 8:00 बजे

राम की पैड़ी पर राम कथा का प्रदर्शन

सरयू पुल पर आतिशबाजी 8:15 बजे तक सरयू पुल से आतिशबाजी 8:30 बजे से रात के 10 बजे तक भारत, नेपाल, श्रीलंका, इंडोनेशिया एवं फिलीपींस की रामलीला का मंचन। Ayodhya Diwali